Categories: Greetings Sms

Happy Diwali Sms Collection- 2

Published by

कोयल को आवाज ‘मुबारक’;
आवाज को सुर ‘मुबारक’;
सुर को संगीत ‘मुबारक’;
और आपको हमारी तरफ से;
दिवाली मुबारक!

—————-

दीपों का उजाला;
पटाखों का रंग;
धूप की ख़ुशी;
प्यार भरी उमंग;
मिठाई का स्वाद;
अपनों का प्यार;
मुबारक हो आपको;
दीपावली का त्यौहार।
हैप्पी दिवाली!

—————–

दिनों दिन बढ़ता जाये आपका कारोबार;
परिवार में बना रहे स्नेह और प्यार;
होती रहे सदा अपार धन की बौछार;
ऐसा हो आपका दिवाली का त्योंहार।
हैप्पी दिवाली!

—————–

पटाखों की आवाज से गूंज रहा संसार;
दीपक की रोशनी अपनों का प्यार;
मुबारक हो आपको दीपावली का त्योहार।
हैप्पी दिवाली!

—————–

मुस्कुराते हँसते दीप तुम जलाना;
जीवन में नई खुशियों को लाना;
दुःख दर्द अपने भूल कर;
सबको गले लगाना।
शुभ दीपावली!

—————-

“आज से आपके यहाँ धन की बरसात हो;
माँ लक्ष्मी का वास हो, संकटों का नाश हो;
हर दिल पर आपका राज हो;
उन्नति का सर पर ताज हो;
घर में शांति का वास हो!”
शुभ दीपावली!

—————-

दीपावली के इस पावन पर्व पर हम उस परम पूज्य परमात्मा से प्रार्थना करते हैं कि;
माता लक्ष्मी आपके ऊपर अपार कृपा करें और;
आपका जीवन इस रोशन पर्व के समान जगमाता रहे।
शुभ दीपावली!

—————

दिवाली तुम भी मनाते हो; दिवाली हम भी मनाते हैं;
बस फर्क सिर्फ इतना है कि;
हम दियें जलाते हैं;
और तुम दिल जलाते हो!
शुभ दीपावली!

Sagar Kumar

A deep inner desire for love and companionship, and want to work with others to achieve peace and harmony.

Leave a Comment

Recent Posts

जो खानदानी रईस हैं वो मिजाज रखते हैं नर्म अपना / शबीना अदीब

ख़ामोश लब हैं झुकी हैं पलकें, दिलों में उल्फ़त नई-नई है,अभी तक़ल्लुफ़ है गुफ़्तगू में,… Read More

1 month ago

वक़्त शायरी | समय शायरी | Waqt Shayari in Hindi – Part 2

वक़्त शायरी | समय शायरी | Waqt Shayari in Hindi - Part 2 (26 से… Read More

4 months ago

दिन कुछ ऐसे गुज़ारता है कोई …

दिन कुछ ऐसे गुज़ारता है कोई जैसे एहसान उतारता है कोई आईना देखकर तसल्ली हुई… Read More

4 months ago

तीरगी चांद के ज़ीने से सहर तक पहुँची – राहत इन्दोरी

तीरगी चांद के ज़ीने से सहर तक पहुँची ज़ुल्फ़ कन्धे से जो सरकी तो कमर… Read More

4 months ago

वक़्त शायरी | समय शायरी | Waqt Shayari in Hindi – Part 1

वक़्त शायरी | समय शायरी | Waqt Shayari in Hindi - Part 1 (1 से… Read More

4 months ago

नोटबंदी/अमरेश गौतम

जमा पूरी रकम को, कालाधन न कहो साहब, गरीबों के एक-एक रुपये का,उसी में हिसाब… Read More

5 years ago